जीने का नज़रिया  बदल दे आज़ादी है..

450 0
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वो एक सोंच  जो जीने का नज़रिया  बदल दे आज़ादी  है

वो एक रास्ता जो अपने देश को उन्नति  का मोड़ दे आज़ादी  है

आज़ादी जज़्बात  ही नही फ़र्ज  भी है,

आज़ादी अनमोल  भी है कर्ज भी है,

वतन से किया हुआ वादा  हर रोज निभाना है

आज़ादी एक दिन का जश्न  नही इसे हर रोज मनाना है!!

आज़ादी विचारों  की उन्नति देश की……

एक सोंच एक दिशा एक संकल्प  बहुत कुछ बदल सकता हैं
बस इरादे  मे दम भरने की देर है!!

इसी जज्बे और संकल्प के साथ आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनायेँ!!

अटल भारत अखंड भारत!!

स्वतंत्र भारत! सक्षम भारत

वन्दे मातरम!!
Orignal post

क्या पसंद आया?
0 / 3 3
0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x